fbpx
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Inspirational Motivational

कठिनाइयों में छिपा होता है सबक 

यूँ तो कठिनाई आने पर हर इंसान विचलित हो जाता हैं, आप भी और हम भी। लेकिन हमें कठिनाइयों से लड़ना सीखना है। इस दुनिया में शायद ही कोई इंसान होगा जिसके जीवन में कठिनाइयां ना हों। लेकिन हर कठिनाई के साथ एक अच्छा सबक छिपा होता है। इतिहास गवाह है कि जिस व्यक्ति ने अपनी कठिनाइयों का सामना करके उनसे पार पाया है, वही आगे जा के सफल हुआ है। युवाओं के लिए प्रेरणा दायक रहे स्वामी विवेकानन्द ने भी कहा है कि अगर कोई शख्स आपकी सच्ची मदद कर सकता है तो वो हैं खुद “आप”। जब आप किसी कठिनाई में फसे हों तो थोड़ी देर के लिए भूल जाइये कि आप मुसीबत में हो और अपनी सारी परेशानियों को भूल कर ठन्डे दिमाग से सोचिये और फिर अपने आप को सलाह दीजिये। फिर देखिये आप खुद ही अपनी समस्या का समाधान कर लेंगे।

वहीं बहुत सारे लोग अक्सर मन ही मन खुद को कोसते हैं कि सारी समस्यांए मेरे साथ ही क्यों होती हैं? लेकिन ये सच नहीं है- दरअसल हर इंसान को अपनी समस्या ही सबसे बड़ी लगती है और ऐसा इसलिए है क्यूंकि आप दूसरे लोगों की परेशानियों को नहीं जानते। एक बात हमेशा ध्यान रखिये कि समस्या को आसान मान लें तो वो वास्तव में आसान लगने लगती है और मुश्किल मान लें तो समस्या बहुत बड़ी लगने लगती हैं।

हम सभी अक्सर क्रिकेट मैच देखा करते है, आप कभी ध्यान दें तो हमारी ज़िन्दगी भी एक क्रिकेट खेल की तरह हैं और क्रिकेट की बॉल कठिनाइयों की तरह। अगर आपको रन बनाने है तो बॉल का सामना तो करना ही होगा। बॉल से डरिये नहीं बल्कि आगे बढ़कर एक लम्बा छक्का लगाइये। क्यूंकि अक्सर कठिनाइयों के पीछे छिपे होते हैं अच्छे अवसर, क्यूंकि आसान काम तो हर कोई कर लेता है, मजा तो तब आता है जब आप किसी बहुत कठिन काम को सफलतापूर्वक पूरा करें। जब कठिनाई आये तो यही सोचे कि “आसान काम तो हर कोई कर लेता है” मुझे तो कठिनाइयों को हराना है। आप चाहे कोई बिजनैसमैन हों या स्टूडेंट, हर कठिनाई के पीछे बहुत सारे बड़े अच्छे अवसर छिपे होते हैं।

अभी कुछ दिन पहले की बात है कि मैं एक सॉफ्टवेयर पे काम कर रहा था और मैं एक परेशानी में फंस गया। बहुत कोशिश के बाद भी मैं उस प्रॉब्लम को हल नहीं कर पा रहा था। ऐसे ही 3 दिन गुजर गए फिर मैं अपने एक मित्र के घर गया और मैंने अपनी परेशानी उसे बताई और उसने 1 सेकेण्ड में मेरी परेशानी सॉल्व कर दी। दरअसल प्रॉब्लम बहुत छोटी सी थी लेकिन उसका हल मेरे दिमाग में नहीं आ रहा था। दोस्तों कई बार परेशानी आने पर हमारा दिमाग सही से काम नहीं कर पाता, तो आप अपने किसी करीबी मित्र या परिवार के लोगों से समस्या शेयर कीजिये। क्या पता आपकी परेशानी भी बहुत छोटी हो जिसका हल आपके दिमाग में नहीं आ रहा हो। तो दोस्तों कठिनाइयाँ देखकर परेशान ना होइए बल्कि अपनी पूरी क्षमता के साथ कठिनाइयों को हल करिये। यकीन मानिये, हर कठिनाई से आपको कुछ नया सीखने को मिलेगा।

 

  • नेशनल थॉट्स अपने प्रेरक प्रसंगो के माध्यम से प्रेरणादायक कहानियाँ ले कर आया है।
    नेशनल थॉट्स टीम आपके सुनहरे भविष्य की कामना करती है।

Related posts