<" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
lockdown
lockdown
Breaking News Editorial

शहर बंदी के पहले दिन ही लोगों को हुई भारी परेशानी….

कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए दिल्ली सरकार की ओर से इस महीने के अंत तक के लिए लागू की गई शहर बंदी के पहले ही दिन लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।
अचानक लागू की गई शहर बंदी के कारण आटो रिक्शा,टैक्सी, मेट्रो रेल, ई-रिक्शा, साईकिल रिक्शा, ग्रामीण सेवा पूरी तरह से बंद कर देने और डीटीसी की केवल 25  फीसदी बसौ को सड़कों पर उतारने की  वजह से दूसरे राज्यों से दिल्ली आए लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।
रेलवे स्टेशनों से जैसे तैसे अंतरराज्यीय बस अड्डे पर पहू़चने वाले लोगों को वहां पता चला कि दूसरे राज्यों को जाने वाली बसें भी नहीं चल रहीं हैं। इतना ही नहीं वहां उन्हें यह भी पता चला कि दिल्ली की दूसरे राज्यों से लगने वाली सीमाएं सील कर दी गई हैं। जिसकी वजह से दूसरे राज्यों से उन्हें लेने के लिए उनके रिश्तेदार भी नहीं आ सकते हैं। इसकी वजह से अनेक लोगों को बस अड्डे पर शरण लेने को मजबूर होना पड़ा। कुछ लोगों को होटल विवरण गेस्ट हाउस में रुकना पड़ा। मगर वहां भी वह कितने दिन तक यह पाएंगे कहा नहीं जा सकता है।
जिन लोगों को शहर बंदी के फैसले का पता नहीं था वह जरूरी काम के सिलसिले में अपने वाहन से नोएडा, फरीदाबाद, गुड़गांव की ओर निकल तो गये मगर बाबर सील होने की वजह से उन्हें निराशा होकर लौटना पड़ा। इतना ही नहीं वहां पर लगने वाले जाम ने उनकी परेशानियों में और भी इजाफा कर दिया।
शहर बंदी के पहले ही दिन फल और सब्जियों के दाम में पच्चीस फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई। सब्जियों का करोबार करने वालों का कहना है कि लोग भविष्य में इनकी आमद में कमी आने की आशंका की वजह से जरुरत से ज्यादा मात्रा में सामान खरीद रहे हैं। जिसकी वजह से मांग और आपूर्ति में काफी अंतर आ गया है। जिससे मंडी में भी इनकी कीमतों में वृद्धि हुई है। उनका यह भी कहना है कि पिछले दिनों हुई बरसात के कारण सब्जियों की खेती प्रभावित हुई है। यह ही वजह है कि टमाटर के दाम काफी ज्यादा बढ़ गए हैं।
अगर सरकार ने जमाखोरी रोकने और कीमतों पर नियंत्रण रखने की दिशा में ठोस कदम नहीं उठाए तो आने वाले दिनों में रोज़मर्रा की जरूरत के सामान की कीमतों में और भी इजाफा हो सकता है। जिससे आम आदमी का जीना दुश्वार हो जाएगा।

Related posts