National Thoughts
Business

साल के आखिरी महीने में सुस्ती से उबरीं मारुति-महिंद्रा, घरेलू बिक्री में हुई वुद्धि

नेशनल थॉट्स डेस्क।  देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया, महिंद्रा एंड महिंद्रा और निसान ने दिसंबर महीने में घरेलू बिक्री में बढ़त दर्ज की है। वहीं, हुंदै, होंडा और टोयोटो की बिक्री में गिरावट दर्ज की गई। मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने कहा कि दिसंबर महीने में घरेलू बाजार में उसकी बिक्री 2.4 प्रतिशत बढ़कर 1,24,375 वाहनों की रही, जो कि एक साल पहले इसी महीने 121,479 इकाइयों पर थी। कंपनी ने कहा कि नई वैगनआर, स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर समेत कॉम्पैक्ट श्रेणी की बिक्री 27.9 प्रतिशत बढ़कर 65,673 इकाइयों पर पहुंच गयी। एक साल पहले इसी माह में उसने 51,346 वाहनों की बिक्री की थी। जिप्सी, अर्टिगा, एस-क्रॉस और विटारा ब्रेजा समेत यूटिलिटी वाहनों की बिक्री 17.7 प्रतिशत बढ़कर 23,808 इकाई हो गयी।

दिसंबर 2018 में यह आंकड़ा 20,225 इकाइयों पर था। हालांकि, समीक्षाधीन महीने के दौरान आल्टो, एस-प्रेसो और पुरानी वैगनआर समेत मिनी श्रेणी के वाहनों की बिक्री 13.6 प्रतिशत गिरकर 23,883 कारों की रही। कंपनी ने दिसंबर 2018 में इस श्रेणी में 27,649 गाड़ियों की बिक्री की थी। महिंद्रा एंड महिंद्रा की घरेलू बिक्री में भी एक प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। महिंद्रा की दिसंबर 2019 में घरेलू बाजार में वाहन बिक्री एक प्रतिशत बढ़कर 37,081 इकाइयों पर पहुंच गयी। एक साल पहले इसी महीने में उसने 36,690 वाहन बेचे थे। कंपनी के बिक्री एवं विपणन प्रमुख विजय राम नाकरा ने कहा, "दिसंबर महीने में हमारा प्रदर्शन साल के आखिर में होने वाली बिक्री के परिदृश्य के अनुरूप ही है। वर्तमान में हम अपने कुल स्टॉक को लेकर भी सहज हैं।

उन्होंने कहा, "हम नए साल में प्रवेश कर रहे हैं, हम अपने बीएस-6 मॉडलों को पेश करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं और बदलाव के इस चरण को आसान बनाने के सारे जरूरी उपाय किए हैं।" वहीं, निसान मोटर इंडिया ने कहा कि उसकी घरेलू बिक्री 49 प्रतिशत बढ़कर 2,169 इकाइयों पर पहुंच गई। दूसरी तरफ, हुंदै मोटर इंडिया ने कहा कि दिसंबर 2019 में उसकी घरेलू बाजार में बिक्री 9.8 प्रतिशत गिरकर 37,953 इकाइयों की रही, जो कि एक साल पहले इसी महीने 42,093 वाहनों की रही थी। कंपनी की 2019 में घरेलू बिक्री 7.2 प्रतिशत गिरकर 5,10,260 इकाइयों पर आ गयी। 2018 में यह आंकड़ा 5,50,002 इकाई था। कंपनी के निदेशक (बिक्री, विपणन एवं सर्विस) तरुंग गर्ग ने कहा, भारतीय वाहन उद्योग के लिए 2019 चुनौती भरा रहा। विपरीत परिस्थितियों के बावजूद, हुंदै मोटर इंडिया भारतीय बाजार को लेकर प्रतिबद्ध है और उसने विभिन्न श्रेणियों में चार नए उत्पाद पेश किए हैं।

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने कहा कि दिसंबर में उसकी घरेलू बिक्री 45 प्रतिशत गिरकर 6,544 इकाई रही, जो कि दिसंबर 2018 में 11,836 इकाइयों पर थी। कंपनी ने कहा कि 2019 में उसकी घरेलू बाजार में बिक्री 16.36 प्रतिशत गिरकर 1,26,701 इकाई रही, जो कि 2018 में 1,51,480 इकाइयों पर थी। होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआईएल) ने कहा कि दिसंबर में घरेलू बाजार में उसकी बिक्री 36 प्रतिशत गिरकर 8,412 इकाइयों पर रही। दिसंबर 2018 में उसने 13,139 वाहनों की बिक्री की थी। वहीं  एमजी मोटर इंडिया ने दिसंबर महीने में हेक्टर की 3,021 इकाइयों की खुदरा बिक्री की है। कंपनी के निदेशक(बिक्री) राकेश सिदाना ने कहा, "हमने भारतीय बाजार में हाल में प्रवेश किया है। बिक्री में जारी तेजी से पता चलता है कि भारतीय बाजार में हमारी पहली पेशकश को किस तरह उपभोक्ताओं का प्यार मिल रहा है। हम अपने वैश्विक और स्थानीय आपूर्तिकर्ताओं के साथ मिलकर करीब से काम कर रहे हैं ताकि 2020 में हेक्टर का उत्पादन बढ़ाया जा सके।"

Related posts