दो दिनों की गिराव" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
10 big business news
Breaking News Top Business News

व्यापार से जुड़ी 10 बड़ी खबरें

  • दो दिनों की गिरावट पर लगा आज ब्रेक, डॉलर के मुकाबले रुपया 27 पैसा हुआ मजबूत

डोमेस्टिक मार्केट में डॉलर के मुकाबले रुपए में दो दिनों से जारी गिरावट पर ब्रेक लग गया | आज रुपए में 27 पैसे की मजबूती दर्ज की गई और यह 74.61 के स्तर पर बंद हुआ | शेयर बाजार में गिरावट का सिलसिला बने रहने के बावजूद रुपया मजबूत हुआ | डॉलर के मुकाबले रुपया आज सुबह 74.93 है | कारोबार के दौरान डॉलर 74.95 से 74.55 के दायरे में रहा | अंत में रुपए की विनिमय दर प्रति डॉलर 27 पैसे की मजबूती के साथ 74.61 पर बंद हुई |

  • कच्चा तेल फिर हुआ महंगा लेकिन यहां कीमतों में चौथे दिन भी फेरबदल नहीं

अमेरिकन पेट्रोलियम इंस्टीट्यूट का कल क्रूड ऑयल इन्वेंटरी का आंकड़ा आ गया। बीते 16 जुलाई को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान वहां 4.079 बैरल कच्चे तेल का ड्रॉ हुआ। इसलिए माना जा रहा है कि इस सप्ताह वहां भंडार भरने के लिए इतनी तो खरीदारी होगी ही। इस वजह से कच्चे तेल का बाजार 1.51 फीसदी चढ़ गया। इससे एक दिन पहले ही, कच्चे तेल का बाजार करीब 7 फीसदी घटा था। हालांकि, घरेलू बाजार में इन दिनों पेट्रोल-डीजल के दाम में फेरबदल नहीं हो रहे हैं।

  • सोना-चांदी का भाव में बढ़ोतरी, कल मार्केट अच्छे अंकों से खुलेगी 

ग्लोबल ट्रेंड्स के मुताबिक आज डोमेस्टिक मार्केट में सोना 253 रुपए महंगा हुआ जबकि चांदी की कीमत में 61 रुपए की गिरावट आई | दिल्ली सर्राफा बाजार में आज सोना 47,100 रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर पर बंद हुआ | इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोने का भाव 46,847 रुपए प्रति दस ग्राम था |

 
  • कोविड-19 की दूसरी लहर का असर उतना नहीं रहा गंभीर, EPFO ने मई में कुल 9.20 लाख नए सदस्य जोड़े
कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर का असर इतना गंभीर नहीं रहा है | 20 जुलाई को प्रकाशित ईपीएफओ (EPFO) के प्रोविजनल पेरोल डाटा से पता चलता है कि ईपीएफओ ने मई, 2021 के दौरान कुल 9.20 लाख सदस्य जोड़े हैं | COVID-19 की दूसरी लहर के संकट के बावजूद देश भर में, ईपीएफओ वर्तमान वित्त वर्ष के शुरुआती दो महीनों में अपने कुल सदस्यता आधार में 20.20 लाख की बढ़ोतरी करने में सफल रहा है |

  • इन्फोसिस को खरीदने के लिए 2 करोड़ का था ऑफर, आज कंपनी का मार्केट कैप 6.5 लाख करोड़
एनआर नारायण मूर्ति का कहना है कि 1990 में कंपनी को महज 2 करोड़ रुपये में खरीदने की पेशकश हुई थी। लेकिन वह कंपनी को बेचना नहीं चाहते थे। उन्होंने अपने को-फाउंडर की हिस्सेदारी खरीदने की पेशकश की लेकिन उन्होंने कंपनी के साथ बने रहने का फैसला किया। आज इन्फोसिस का मार्केट कैप 6.5 लाख करोड़ रुपये पहुंच चुका है। नारायण मूर्ति ने मनीकंट्रोल को दिए गए इंटरव्यू में कहा कि फाउंडेशन के संकल्प और 1991 के आर्थिक सुधारों के बिना कंपनी इस मुकाम पर नहीं पहुंच सकती थी।
  • एलन मस्क ने ट्विटर प्रोफाइल की पिक्चर बदली और सरपट दौड़ पड़ी Dogecoin
दुनिया के दूसरे सबसे बड़े रईस और इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला तथा स्पेसएक्स के सीईओ एलन मस्क का एक ट्वीट क्रिप्टो करेंसी मार्केट में भूचाल लाने के लिए काफी है। हाल में उन्होंने एक बार फिर ऐसा ही किया। मस्क ने अपने ट्विटर प्रोफाइल की पिक्चर क्या बदली, डॉग कॉइन (Dogecoin) की कीमतों में सोमवार को एक बार फिर उछाल आ गया। इस तस्वीर में मस्क ने ऐसा चश्मा पहन रखा है जिससे Doge की इमेज रिफ्लेक्ट हो रही है जो डॉग कॉइन के सिंबल Shiba Inu की है।
  • स्नैपडील का बड़ा फैसला, महंगे आइटम्स की अब नहीं करेगी बिक्री
ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म स्नैपडील ने एक बड़ा फैसला किया है। कंपनी ने अपने प्लेटफॉर्म पर हाई-एंड ब्रांड यानी बेहद महंगे प्रॉडक्ट अब नहीं बेचने का फैसला किया है। स्नैपडील के संस्थापक और सीईओ कुणाल बहल ने TOI को बताया, “पिछले कुछ वर्षों में हमने वैल्यू ई-कॉमर्स सेगमेंट पर बहुत तेजी से ध्यान केंद्रित किया है और हमारी रणनीति आगे भी इसी सेगमेंट के लिए रहेगी। हम उन ग्राहकों के बारे में बहुत स्पष्ट है जिन्हें हम सेवा दे रहे हैं और वे मुख्य रूप से वैल्यू शॉपर्स हैं। इसलिए हम बहुत महंगे आइटम या महंगे ब्रांड नहीं बेचेंगे।”
  • टॉप परफॉर्मर को इनाम में मर्सिडीज बेंज कार, कंपनी जा सकती है घाटे में 
अपने कर्मचारियों को अपने साथ बनाए रखने के लिए टेक और आईटी कंपनियां लुभावनी पेशकशों में तेजी ला रही हैं। इसकी वजह है कि किसी कर्मचारी के जाने पर नई भर्ती करना, कंपनियों के लिए 20 फीसदी महंगा पड़ता है। इसलिए कंपनियां कैश बेस्ड इंसेंटिव देकर और अन्य तरीकों से कर्मचारियों को अपने साथ जोड़े रखने की कोशिश करती हैं। अब HCL टेक्नोलॉजीज को ही ले लीजिए, कंपनी ने अपने टॉप परफॉर्मर को एक गाड़ी देने का फैसला किया है।
  • Hyundai Alcazar ने भारत में मचाई सनसनी, महज 10 दिनों में 11000 लोगों ने किया बुक, कंपनी का मूल्य बढ़ा 
Hyundai Alcazar पिछले महीने भारत में लॉन्च हुई थी। इसे भारतीय ग्राहकों का बेहतर साथ मिल रहा है। लॉन्च से अब तक में इसे 11000 बुकिंग मिल चुकी है। ह्यूंदै मोटर की तरफ से बताया गया कि केवल 10 दिनों में इसे 4000 बुकिंग मिल गई थी। बता दें कि दक्षिण कोरिया की दिग्गज कार निर्माता नेे अपनी Hyundai Alcazar (ह्यूंदै अल्काजार) की बुकिंग 9 जून से शुरू की थी। ह्यूंदै अल्काजार एसयूवी की शुरुआती (Hyundai Alcazar Price) एक्स-शोरूम कीमत 16.3 लाख रुपये है, जो इसके टॉप एंड वेरिएंट पर 20 लाख रुपये तक जाती है।

Related posts

Leave a Comment