राम मंदिर से दूरी के बावजूद राम का नाम जप रहे मोदी

0
33

प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार आयोध्या गए पीएम नरेंद्र मोदी ने आज अयोध्या की रैली में राम, रामायण से लेकर आतंकवाद का जिक्र किया। इस दौरान पीएम ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए अपनी सरकार द्वारा आतंक के खिलाफ उठाए गए सख्त कदमों को सामने रखा। पीएम मोदी लंका में हुए आतंकी हमले का जिक्र करते हुए कहा कि अभी जो कोलंबो में हुआ है कुछ यही स्थिति 2014 के पहले भारत में भी थी। उन्होंने कहा, पिछले 5 सालों में इस तरह के धमाके की खबर आनी बंद हो गई है। फैजाबाद में कैसे-कैसे बम धमाके हुए हम यह कैसे भूल सकते हैं। पीएम ने कहा कि यह नया हिंदुस्तान घर में घुसकर मारेगा। नया भारत छेड़ता नहीं है, लेकिन अगर छेड़ा तो छोड़ता भी नहीं है।

भाषण की शुरुआत में उन्होंने रैली स्थल को मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की धरती बताया तो अपनी स्पीच का अंत जय श्रीराम के नारे लगवाकर किया। मौजूदा चुनाव प्रचार के दौरान यह पहला मौका है जब पीएम मोदी ने मंच से भारत माती की जय या वंदे मातरम के अलावा जय श्रीराम का नारा लगवाया है। अयोध्या के बॉर्डर से सटे इलाके में लोकसभा चुनाव के लिए वोट की अपील करने पहुंचे पीएम मोदी ने कहा कि ये मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की धरती है, ये स्वाभिमान की धरती है और पिछले पांच साल में यह स्वाभिमान और बढ़ा है। इसके अलावा उन्होंने अपने भाषण में यह भी बताया कि भगवान राम के लिए किस तरह के काम किए जा रहे हैं। रैली में एसपी-बीएसपी गठबंधन पर निशाने साधते हुए पीएम ने कहा कि महामिलावटी एकबार फिर मजबूर सरकार बनाने की ताक में हैं और आपको सतर्क रहना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here