सपना संग तिवारी या दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री पड़ेगी भारी

0
117

नई दिल्ली || दिल्ली में होने वाले सत्रहवीं लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर पूर्वी दिल्ली का संसदीय क्षेत्र बीजेपी, कांग्रेस और आप तीनों के लिए किसी रण से कम नहीं है। इस क्षेत्र में जहाँ बीजेपी के प्रख्यात नेता, भोजपुरी स्टार एवं गायक मनोज तिवारी एक जाना पहचाना नाम है वहीं दूसरी ओर तिवारी को तिनके की तरह बिखरने के लिए शीला रूपी आंधी, गांधी की ओर से टक्कर देने के लिए मैदान में है। यहां पर कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा। आम आदमी पार्टी ने इस क्षेत्र से दिलीप पांडे को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। इस लोकसभा सीट में बुराड़ी, रोहताश नगर, बाबरपुर, तिमारपुर, सीलमपुर, गोकलपुर, सीमापुरी, घोंडा, मुस्तफाबाद और करवाल नगर शामिल हैं। इनमें से सीमापुरी और गोकलपुर के क्षेत्र अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं। वहीं अन्य क्षेत्रों में अल्पसंख्यकों की दमदार उपस्थिति चुनावी समीकरण को बदलने और जीत सुनिश्चित करने में अहम भूमिका निभा सकती है। कांग्रेस की प्रत्याशी श्रीमती शीला दीक्षित ने बाबरपुर बस टर्मिनल, बाबरपुर विधानसभा में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया और संसदीय क्षेत्र में पदयात्रा कर क्षेत्रवासियों से उनकी समस्याओं के बारे में भी बातचीत की। जनसभा का आयोजन जिला अध्यक्ष कैलाश जैन ने किया। चुनावी प्रचार में शीला दीक्षित के साथ पूर्व मंत्री दिल्ली सरकार रमाकांत गोस्वामी, पूर्व विधायक चौ. मतीन अहमद, पूर्व निगम पार्षद चौ. अजीत सिंह, सविता शर्मा, सुरेशवती चौहान, नफीस अहमद, मंगल सेन, सागीर अहमद मुख्य रुप से मौजूद थे। जिससे यह स्पष्ट है राजनीति में अनुभव का लोहा मनवाने वाली दीक्षित को पार्टी, कार्यकर्ताओं और जनता का भरपूर समर्थन हासिल है।

वहीं दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली प्रदेशाध्यक्ष और उत्तर-पूर्वी दिल्ली से भाजपा प्रत्याशी मनोज तिवारी प्रसिद्ध हरियाणवी कलाकार सपना चैधरी संग बुराड़ी के सरूप बिहार बुराड़ी और मल्का गंज में आयोजित सभाओं में पहुँच कर भारी बहुमत से विजयी बनाने की अपील की। इस अवसर पर उपस्थित हजारों क्षेत्र के निवासियों को मनोज तिवारी ने संबोधित किया। इस दौरान मनोज तिवारी ने आप पर आरोप लगाते हुए कहा कि विकास के नाम पर दिल्लीवासियों के सपनों का सौदा कर सत्ता में पहुँचे केजरीवाल से दिल्ली के लोगों को अपेक्षा थी कि बिजली और पानी फ्री मिलेगा, 500 नये स्कूल खुलेंगे, कई कॉलेजों में बच्चों को पढ़ने का अवसर मिलेगा, फ्री वाई फाई की सुविधा मिलेगी, डीटीसी की बसों में कमाण्डो लगेंगे, लोकपाल के द्वारा भ्रष्टाचार पर रोक लगेगी, लोगों को लगा कि कॉमनवेल्थ गेम्स घोटाले में थे 300 पन्नों की फाइल पर कार्रवाई करते हुए केजरीवाल शीला दीक्षित को जेल भेजेंगे लेकिन मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली वासियों का सपना उस समय चकनाचूर हो गया जब केजरीवाल के विधायकों और मंत्रियों पर राशन कार्ड एवं पेंशन बनाने के बदले महिलाओं की आबरू लूटने के आरोप लगे देश और दुनिया के सामने दिल्ली उस समय शर्मसार हो गई जब उनकी अपनी एक कार्यकर्ता ने केजरीवाल के एक विधायक द्वारा और यौन उत्पीड़न घर से त्रस्त होकर आत्महत्या कर ली देश की राजधानी में बैठकर कुछ देशद्रोहियों ने जब देश को टुकड़े टुकड़े करने की साजिश रची तो केजरीवाल उनके साथ खड़े नजर आए। आज फिर झूठे वादे और खतरनाक इरादे के साथ वो दिल्ली की संसद में जाने का सपना देख रहे हैं लेकिन उनके इस खतरनाक मंसूबों को बेनकाब करने के लिए सपना चैधरी जनता के बीच में है और जनता यह जानती है कि देश के स्वाभिमान सम्मान और दिल्ली के विकस की रक्षा सिर्फ भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर सकते हैं।

इस अवसर पर मनोज तिवारी को विजयी बनाने की अपील करते हुए सपना चैधरी ने कहा कि मनोज तिवारी स्वयं एक कलाकार हैं और उनका हृदय विशाल है। वह सब को साथ लेकर सबके विकास के लिए निरंतर काम कर रहे है उनके सामने जो लोग चुनाव लड़ रहे हैं वह झूठ बेइमानी और भ्रष्टाचार के दम पर सत्ता हासिल करना चाहते हैं जो न देश के हित में है और न दिल्ली के हित में श्री नरेंद्र मोदी का प्रधानमंत्री बनना जरूरी है और उसके लिए मनोज तिवारी की शानदार जीत आवश्यक है। वहीं कांग्रेस प्रत्याशी श्रीमती दीक्षित ने कहा कि सैकड़ों साल से हमारे देश में हिन्दु-मुस्लिम आपस में मिलजुलकर भाईचारे के साथ रह रहे हैं, यही तो हमारे देश की सभ्यता और संस्कृति रही है। हमें अपनी संस्कृति पर नाज़ है मगर भाजपा (पहले जनसंघ) और उनके अन्य सहयोगी संगठन, आजादी के बाद से ही देश और समाज को धर्म और जाति के नाम पर, हिन्दू-मुसलमान के नाम पर बांटने का कुत्सित साम्प्रदायिक खेल खेलने की कोशिश करते रहते हैं। गौरतलब है कि शीला दीक्षित लगातार तीन बार दिल्ली में कांग्रेस की सरकार बना चुकी हैं। हालांकि, इस बार उनकी राह आसान नहीं होने वाली है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने दीक्षित के खिलाफ अपने प्रदेश अध्यक्ष, पूर्व सांसद और भोजपुरी सुपरस्टार मनोज तिवारी को इस सीट से उतारा है। वहीं, आम आदमी पार्टी ने इस सीट पर दिलीप पांडे को चुनावी रण में अपने प्रत्याशी के रूप में उतारा है। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि इस त्रिकोणीय लड़ाई में कौन सा खिलाड़ी बाजी मारता है। लेकिन यहाँ गौर करने वाला विषय यह है कि जहाँ बीजेपी के दिल्ली प्रदेशाध्यक्ष पूरे गाने बाजे के साथ सपना चौधरी जैसी प्रख्यात शख्सियत के साथ प्रचार में लगी है वहीं कांग्रेस दिल्ली प्रदेशाध्यक्ष शीला दीक्षित पारंपारिक रूप से कार्यकर्ताओं को एक करते हुए जनता के बीच जनता की समस्याओं को जानने और पार्टी के उद्देश्यों के माध्यम से पार्टी और अपना प्रचार-प्रसार कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here