fbpx
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
A loan of Rs 65 lakh given to 50 women for purchasing self-sufficient campaign milch animals
Breaking News State

आत्मनिर्भर बनाने के लिए 50 महिलाओं को दिया गया 65 लाख रूपए का लोन

नूंह (हरियाणा): डेयरी विकास परियोजना के तहत डिप्टी कमिश्नर कार्यालय परिसर में बृहस्पतिवार  को महिलाओं के लिए ऋण वितरण समारोह का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम गैर सरकारी संस्था बिसनौली सर्वोदय ग्रामोदय सेवा संस्थान (बीएसजीएसएस) द्वारा आयोजित किया गया था जिसके तहत 50 महिलाओं को कुल 65 लाख रूपए की राशि का लोन दिया गया।

गौरतलब है कि यह ऋण वितरण समारोह पंजाब नेशनल बैंक के सहयोग से किया गया था। इस परियोजना को नेशनल मिनरल डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन सीएसआर फाउंडेशन (एनसीएफ) की सीएआर पहल के रूप में कार्यान्वित किया जा रहा है जो लाभार्थियों को दुधारू पशुओं को खरीदने के लिए सक्षम करेगी।

इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि मौजूद धीरेन्द्र खड़गटा, आईएएस, उपायुक्त नूंह ने लाभार्थियों को लोन के दस्तावेज वितरित किए और कहा कि मुझे बेहद खुशी है कि महिलाओं के स्वरोजगार के लिए इस अनूठी पहल की शुरुआत की गई है। उन्होंने बिसनौली सर्वोदय ग्रामोदय सेवा संस्थान, एनएमडीसी और पंजाब नेशनल बैंक को इस कार्य के लिए धन्यवाद भी दिया।

इस मौके पर मौजूद नंदिता बख्शी, सीईओ, बीएसजीएसएस ने बताया कि नीति आयोग के सूचकांकों के अनुसार, नूंह देश के 115 एस्पिरेशनल जिलों की सूची में सबसे निचले स्तर में है। यह भी उल्लेखनीय है कि 7 डेयरी सहकारी समितियों की स्थापना की गई है जिसमें 700 महिलाएं शामिल हैं।

इन समितियों की स्थापना में हरियाणा डेयरी डेवलपमेंट कोऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड की प्रमुख भूमिका रही है। बता दें कि बीएसजीएसएस स्थायी आजीविका परियोजनाओं के द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए दो दशकों से काम कर रही जिसे विजय कुमार झा, मुख्य संरक्षक और नंदिता बख्शी, सीईओ द्वारा संचालित किया जा रहा है।

जिन्होंने पूर्णकालिक आधार पर सामाजिक कार्य करने से पहले भारत सरकार की लंबे वर्षों तक सेवा की है। इस अवसर पर पंजाब नेशनल बैंक, हरियाणा डेयरी डेवलपमेंट कोऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड, पशु विभाग के प्रतिनिधि भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए। बीएसजीएसएस के निदेशक अनूप कुमार ने इस कार्यक्रम का संचालन किया।

Related posts

Leave a Comment