Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Air quality again declines, there is a possibility of reaching very severe category
Air quality again declines, there is a possibility of reaching very severe category
Breaking News City

वायु गुणवत्ता में फिर हुई गिरावट, बेहद गंभीर श्रेणी में पहुंचने की आशंका

नई दिल्ली || बढ़ते प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए दिल्ली सरकार ने 9 नवंबर से ऑड-ईवन लागू किया जिसका असर भी बढ़ते प्रदूषण पर देखने को मिला। वायु गुणवत्ता कुछ दिन बेहतर रहने के बाद मंगलवार सुबह पड़ोसी राज्यों में जल रही पराली के कारण एकबार फिर ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुँच गई है। दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर बुधवार को ‘‘बेहद गंभीर’’ या ‘‘आपातकालीन  श्रेणी में प्रवेश करने की आशंका है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव माधवन राजीवन ने ट्वीट किया, ‘‘पूर्वानुमान के मुताबिक हवा की गुणवत्ता 14 नवंबर तक बेहद गंभीर श्रेणी में पहुंचने की आशंका है।’’जिस कारण प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए जल्द से जल्द कुछ ठोस उठाने की आवश्यकता है ।

सर्दियों के आगाज के साथ ही, न्यूनतम तापमान में गिरावट से हवा में ठंडक बढ़ गई है और भारीपन आ गया है जिससे प्रदूषक तत्व जमीन के निकट जमा हो रहे हैं। गौरतलब है कि वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 0-50 के बीच ‘अच्छा’, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘मध्यम’, 201-300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘अत्यंत खराब’, 401-500 के बीच ‘गंभीर’ और 500 के पार ‘बेहद गंभीर एवं आपात’ माना जाता है। विशेषज्ञों ने बताया किप्रदूषण के स्तर में वृद्धि को हवा की गति में गिरावट आ सकती है। उन्होंने कहा कि पराली जलाए जाने से निकलने वाले धुएं के बढ़ने की आशंका है जिससे दिल्ली में अगले दो दिनों में हवा की गति में गिरावट आ सकती है।

Related posts