केहु के ना लागताटे, कुछ" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Bhojpuri corona song
Breaking News Entertainment and Cinema State

भोजपुरी कोरोना गीत : हरेन्द्र प्रसाद यादव”फ़कीर”

केहु के ना लागताटे, कुछहु सलोना,
ई करोना बाटे।
लागत नइखे कवनो जादू टोना,
ई करोना बाटे।।

बबुआ घेराइल बाड़ेंं,
कहीं परदेस में।
लौकडाऊन लागल बाटे,
देसवा बिदेस में।।

बांचल ना बाटे कवनो, दुनियां के कोना,
ई करोना बाटे।
लागत नइखे कवनो जादू टोना,
ई करोना बाटे।।

मिलल मिलावल अबे,
निक नाहीं लागता।
जेकरे करीब जाईं,
उहे दूरे भागता।।

मेहरी करेली आपन अलगे बिछौना,
ई करोना बाटे।
लागत नइखे कौनो जादू टोना,
ई करोना बाटे।।

फिकीर से मरतारी,
बबुआ के माई।
अभी ले ना मिलताटे,
कवनो दावाई।।

नीक नाहीं लागताटे एको चानी सोना,
ई करोना बाटे।
लागत नइखे कौनो जादू टोना,
ई करोना बाटे।

कहत “फ़कीर”अबे,
धीर ना धाराता।
मानवां के पीर नाहीं,
सहले साहाता।।

रही रही आवताटे अँखिया से रोना,
ई करोना बाटे।
लागत नइखे कौनो जादू टोना,
ई करोना बाटे।।

कवि गीतकार : हरेन्द्र प्रसाद यादव “फ़कीर”

 

यह भी पढ़ें :- महादलित परिवार का 3 घर जलकर राख

 

Related posts