कोविद -19 महामारी ने पिछल" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
CS exam will now be held from August 18: - Ashish Garg
Business

कंपनी सचिवों ने निभाई कोरोना वारियर्स की भूमिका

कोविद -19 महामारी ने पिछले कुछ महीनों में विश्व अर्थव्यवस्था को अव्यवस्थित कर दिया है, जिससे की लगभग सभी आर्थिक गतिविधियों में एक रुकावट सी आ गयी है   भारत सहित दुनिया भर के देशों ने कोरोनावायरस कर्व को समतल करने के लिए पूर्ण लॉकडाउन सहित कई असाधारण उपायों का सहारा लिया। हालांकि, लॉकडाउन के बावजूद भी नयी कंपनियों का पंजीयन अनवरत जारी रहा।

भारतीय कंपनी सचिव संस्थान (ICSI) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीएस आशीष गर्ग ने कहा की इस स्थिति का संज्ञान लेते हुए एवं कॉर्पोरेट्स को हो रही कठिनाइयों को कम करने के लिए भारत सरकार के कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय (MCA) ने महामारी के दौरान भी अपने कार्यो को निर्बाध रूप से जारी रखा है और अपने संचालन में विभिन्न उपायों को अपनाया है ताकि बिजनेस चलाने में आसानी  (Ease of Doing Business)  रहे

उन्होंने कहा की आज के इस प्रौद्योगिकी संचालित युग मेंसभी हितधारकों को बिजनेस चलाने में आसानी करने के लिए (Ease of Doing Business) विशिष्ट उद्देश्य के परिणामस्वरूप कंपनियों के पंजीयन सम्बन्धी फॉर्म्स को जल्दी प्रोसेस करने के लिए नियमो में सरलता लायी गई है जब पूरा देश लोकडाउन में था तब भी प्रोफेशनल एवं अधिकारियो ने कंपनियों एवं LLPs को नाम उपलब्धता के लिए (RUN) और कंपनियों के पंजीयन से संबंधित SPICe फॉर्म और माल और सेवा कर पहचान संख्या, कर्मचारी राज्य बीमा के लिए आवेदन, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन पंजीकरण  से संबंधित AGILE फॉर्म और LLP के पंजीयन के लिए FiLLiP फॉर्म के आवेदन को मात्रा 1 से 2 दिन में ही प्रोसेस करवाने में अथक प्रयास किया हैं।

श्री गर्ग ने बताया की मार्च 2020 में 804.61 करोड़ रुपए की अधिकृत पूंजी के साथ कुल 5,788 कंपनियों एवं 2356 LLPs का पंजीकरण किया गया। वही अप्रैल, 2020 में कुल 3,209 कंपनियों को पंजीकृत किया गया जिसका श्रेय एमसीए द्वारा प्रदान की गई विस्तारित समय अवधि के भीतर कंपनी के कानून के तहत फाइलिंग और अनुपालन को तैयार करने में कंपनी सचिव के ईमानदार प्रयासों को जाता है।

उन्होंने यह भी उल्लेख किया किजबकि समन्वित और ठोस प्रयासों के माध्यम से महामारी से जूझना प्राथमिकता रही है, आईसीएसआई अपने हितधारकों की सेवा करने और एक मजबूत और आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के अपने सभी प्रयासों में भारत सरकार का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध है

Related posts