fbpx
National Thoughts
Breaking News City

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल ईपीसीए की रिपोर्ट पक्षपातपूर्ण : आप

नई दिल्ली || आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण एवं संरक्षण प्राधिकरण  के अध्यक्ष भूरेलाल द्वारा दिल्ली मेट्रो फेज 4 को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल रिपोर्ट को पक्षपातपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि उनकी रिपोर्ट को पढने से साफ पता चलता है कि वो केंद्र सरकार की तरफ झुकी हुई है।

बुधवार को भारद्वाज ने पार्टी कार्यालय में एक प्रेस वार्ता कर कहा कि मेट्रो के पहले, दूसरे और तीसरे फेज में मेट्रो के लिए खरीदी गई जमीन का आधा खर्च दिल्ली सरकार जबकि आधा खर्च केंद्र सरकार देती थी। अब मेट्रो का किराया बढ़ाने का निर्णय केंद्र सरकार खुद लेना चाहती है, जबकि जमीन खरीदने का खर्च और संचालन में होने वाला घाटा दिल्ली सरकार पर डालना चाहती है।

भारद्वाज ने ईपीसीए पर आरोप लगाया कि राजधानी में प्रदूषण कम करने में मेट्रो को वह बेहद जरूरी तो बता रही है, लेकिन दिल्ली सरकार के मेट्रो के लिए 6 कॉरिडोर के प्रस्ताव के बजाए केवल तीन कॉरिडोर बनाने की बात कर रही है। ईपीसीए के मुताबिक लाजपत नगर से साकेत, इंद्रलोक से इंद्रप्रस्थ, रिठाला से बवाना होते हुए नरेला तक मेट्रो की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि ईपीसीए ऐसा केंद्र सरकार के इशारे पर कर रही है। आप नेता ने कहा कि इस संबंध में उन्होंने ईपीसीए के अध्यक्ष भूरेलाल को एक पत्र लिखकर फिर से इस प्रकरण पर विचार करने का अनुरोध किया है।

Related posts

Leave a Comment