fbpx
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Four-time Cricketer of the Year, Sarah Taylor said goodbye to cricket
Four-time Cricketer of the Year, Sarah Taylor said goodbye to cricket
Sports & Crickets

चार बार रह चुकी क्रिकेटर ऑफ द ईयर, सारा टेलर ने क्रिकेट को कहा अलविदा

नई दिल्ली, नेशनल थॉट्स। इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम की विकेटकीपर-बल्लेबाज सारा टेलर ने अपने 13 वर्ष के क्रिकेट करियर को अलविदा कह दिया। सारा टेलर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। 30 वर्ष की ये महिला क्रिकेटर पिछले तीन वर्ष से मेंटल हेल्थ प्रॉब्लम से जूझ रही है। इस दौरान वो अपनी इस परेशानी को दूर करने के लिए कई बार क्रिकेट से ब्रेक भी ले चुकी थीं, लेकिन अब उन्होंने आखिरकार क्रिकेट को ही छोड़ने का फैसला कर लिया।

अपने संन्यास की बात पर सारा टेलर ने कहा कि ये मेरे लिए मुश्किल फैसला था, लेकिन ये मेरे लिए सही फैसला है क्योंकि इसके बाद मैं ज्यादा बेहतर तरीके से अपनी बीमारी को ठीक कराने की दिशा में आगे बढ़ पाउंगी। उन्होंने कहा कि वो सारे खिलाड़ी जो मेरे साथ खेले और मेरे साथ खेल रहे थे मैं सबका धन्यवाद अदा करती हूं। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के लिए खेलना एक सपने के सच होने जैसा रहा। मैं अपने करियर के दौरान कई बार ऐतिहासिक लम्हों की भी गवाह बनी।

सारा टेलर दो बार उस इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम हिस्सा रही थीं जिन्होंने दो वनडे विश्व कप जीता था। इंग्लैंड महिला टीम ने वर्ष 2009 और 2017 में अपनी धरती पर महिला वनडे विश्व कप जीता था। सारा उस टीम का हिस्सा थीं। सारा ने कहा कि मुझे अपने क्रिकेट करियर पर गर्व है। मैं अपने साथी खिलाड़ियों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देती हूं। सारा टेलर वर्ष 2014 में आइसीसी महिला वनडे क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुनी गई थीं जबकि वो तीन बार आइसीसी महिला टी 20 क्रिकेटर ऑफ द ईयर भी बनीं। उन्होंने ये उपलब्धि 2012, 2013 और 2018 में हासिल की थी।

सारा टेलर का क्रिकेट करियर काफी शानदार रहा। उन्होंने इंग्लैंड के लिए 10 टेस्ट मैचों में 300 रन बनाए। टेस्ट में उनके नाम पर 18 कैच और दो स्टंप दर्ज है। वहीं उन्होंने 126 वनडे मैचों में सात शतक की मदद से 4056 रन बनाए। वनडे में उनका बेस्ट स्कोर 147 रन रहा। वनडे क्रिकेट में विकेट के पीछे उन्होंने 87 कैच और 51 स्टंप किए। टी 20 क्रिकेट की बात करें तो उन्होंने 90 मैचों में कुल 2177 रन बनाए। वहीं क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में 23 कैच और 51 स्टंप आउट किए।

Related posts