नई दिल्ली उत्त" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Hathras case family has made serious allegations against police
Breaking News National

हाथरस मामला परिवार ने लगाये पुलिस पर गंभीर आरोप गावं से शहर तक प्रदर्शन

नई दिल्ली उत्तर प्रदेश के हाथरस की घटना  – देश में एक और बेटी के साथ हुआ अत्याचार आरोप प्रत्यारोप के बीच आखिर दम तोड़ दी देश की एक और बेटी ने आखिर कब तक लोग इंसानियत को शर्मसार करते रहेंगे l
मौत के बाद परिजनों को बताये बिना पुलिस ने  किया दाह संस्कार मीडिया रिपोर्ट  के अनुसार यूपी पुलिस मामला दर्ज करने में की देरी लेकिन पुलिस कहती है शिकायत मिलते ही आरोपियों केखिलाफ कार्यवाही की गई है अभी चारो आरोपी सलाखों के पीछे है l
भारत में 2019 में प्रतिदिन बलात्कार के औसतन 87 मामले दर्ज हुए और साल भर के दौरान महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 4,05,861 मामले दर्ज हुए थे l
राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों के अनुसार ताजा आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई। हाथरस की निर्भया के भाई ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने दीदी के लिए एंबुलेंस तक नहीं मंगाई बहन जमीन पर पड़ी हुई थी, पुलिस ने कह दिया कि यहां से ले जाओ, ये बहाने बनाकर लेटी हुई है l
पीड़िता के भाई ने ये भी आरोप लगाया कि इस मामले में हमें एफआईआर दर्ज कराने के लिए 8-10 दिन का इंतजार करना पड़ा जब धरना प्रदर्शन किया गया तो पुलिस ने कार्रवाई की और 10-12 दिन बाद आरोपियों को पकड़ा गया l  आईजी पियूष मोडिया ने कहा है कि मेडिकल एग्जामिनेशन के दौरान दुष्कर्म का कोई भी तथ्य सामने नहीं आया

दूसरी तरफ यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार का कहना है कि 14 सितंबर को यह घटना घटी और लड़की के भाई ने जो तहरीर दी थी उसके आधार पर पहली एफआईआर दर्ज की गई जिस संदीप कुमार का नाम एफआईआर में है उसे तुरंत गिरफ्तार किया गया हालांकि उस शिकायत में रेप का जिक्र नहीं था लेकिन 22 तारीख को पहली बार लड़की ने सेक्सुअल असॉल्ट का जिक्र किया, उसके बाद इस मामले में गैंगरेप की धारा लगाई गई और सभी चार आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए l अब लड़की की दुखद मौत हो चुकी है तो अब चारों आरोपियों पर आईपीसी की धारा 302 भी लग गई है l

Related posts