PM मोदी के बदले अब स" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Headlines of the afternoon
Breaking News National

दोपहर की मुख्य खबरें

  • PM मोदी के बदले अब स्वास्थ्य सचिव कोरोना पर सदन के नेताओं को करेंगे संबोधित
केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में कोरोना पर राजनीतिक दलों के फ्लोर लीडर्स को संबोधित करेंगे | उनका ये संबोधन शाम 6 बजे शुरू होगा | उम्मीद की जा है कि वह इस दौरान महामारी पर प्रस्तुतियां दिखाएंगे और इसे कैसे रोका जाए इसपर चर्चा की जाएगी | बीते दिन खुद प्रधानमंत्री मोदी ने घोषणा कि थी की ‘ वह खुद एक सम्मेलन कक्ष में कोरोना पर प्रस्तुति देंगे’ | 
 
  • बेजोस का रॉकेट – कैप्सूल तैयार, आज जाएंगे अंतरिक्ष में
अमेजन के फाउंडर जेफ बेजोस की स्पेसफ्लाइट कंपनी ब्लू ओरिजिन ने कहा कि वह अपनी पहली ह्यूमन स्पेस फ्लाइट के लिए पूरी तरह तैयार है। इस फ्लाइट में जेफ बेजोस समेत चार यात्री होंगे, जो पृथ्वी की सतह से 100 किमी ऊपर कारमन लाइन तक जाएंगे और सुरक्षित वापसी करेंगे। पूरी फ्लाइट का समय 10-12 मिनट का रहने वाला है। बेजोस 20 जुलाई को स्पेस में जा रहे हैं। वह भी नील आर्मस्ट्रांग के चांद पर पैर रखने के ठीक 52 साल बाद। 
 
  • बंगाल में थम नहीं रही है राजनीतिक हिंसा, पेड़ से लटका मिला BJP कार्यकर्ता का शव
बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद से राजनीतिक हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है | उत्तर दिनाजपुर के रायगंज के गौरी ग्राम पंचायत नंबर 9 के दक्षिण विष्णुपुर में 52 वर्षीय देवेश बर्मन का शव पेड़ से लटका मिला | बीजेपी का दावा है कि वह पार्टी का कार्यकर्ता था | दूसरी ओर, विधानसभा चुनाव के बाद हिंसा को लेकर बीजेपी ने बुधवार को मानवाधिकार रक्षा दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है | घर से करीब 500 मीटर दूर आबादी वाले इलाके में कच्ची सड़क पर उसका शव आम के पेड़ से लटका मिला |
 
  • पेगासस जासूसी मामला: सरकार की इसमें कोई भागीदारी नहीं- बोले संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी
पेगासस प्रोजेक्ट मीडिया रिपोर्ट पर केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि इसमें सरकार की कोई भागीदारी नहीं है, लेकिन अगर विपक्ष सही प्रक्रिया से मुद्दा उठाना चाहता है तो उन्हें मुद्दा उठाने दो | आईटी मंत्री ने इस पर पहले ही बयान दिया है | साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री ने विपक्ष की धारणा पर चिंता व्यक्त की | लोगों का मुद्दा उठाने की बजाए कांग्रेस सोच रही है कि सत्ता और पीएम उनका अधिकार है | हम 2 साल से महामारी झेल रहे हैं, लेकिन कांग्रेस बहुत गैर-जिम्मेदाराना व्यवहार कर रही है |
 
  • महिला पत्रकारों ने राजद्रोह कानून को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट का किया रुख 
दो महिला पत्रकारों ने राजद्रोह कानून की संवैधानिक वैधता को चुनौती देते हुए उच्चतम न्यायालय का रुख किया है और कहा है कि औपनिवेशिक समय के दंडात्मक प्रावधान का इस्तेमाल पत्रकारों को डराने, चुप कराने और दंडित करने के लिए किया जा रहा है। ‘द शिलॉन्ग टाइम्स’ की संपादक पेट्रीसिया मुखिम और ‘कश्मीर टाइम्स’ की मालिक अनुराधा भसीन ने कहा कि भारतीय दंड संहिता की धारा 124-ए (राजद्रोह) अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और प्रेस की स्वतंत्रता के अधिकार को ‘‘परेशान करने के साथ ही बाधित करना’’ जारी रखेगी।

Related posts

Leave a Comment