कोरोनावायरस महामारी के दौरान द" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Kovid Care Hospital will be built with the help of donated gold and silver: Gurdwara Sikh Management Committee
Breaking News National

दान में आए सोना-चांदी की मदद से कोविड केयर हॉस्पिटल बनाया जाएगा : गुरुद्वारा सिख प्रबंधक कमेटी

कोरोनावायरस महामारी के दौरान दिल्ली की सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की टीम लोगों की मदद के लिए बढ़-चढ़कर सामने आई | ऑक्सीजन संकट के दौरान लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर भी दिए गए | कमेटी द्वारा निजी स्तर पर भी काम किया गया है जिसका हम सभी तहे दिल से शुक्रिया अदा करते हैं | ऑक्सीजन संकट के दौरान हमने देखा कि दिल्ली निवासी ऑक्सीजन सिलेंडर को रिफिल कराने के लिए परेशान थे | वही कमेटी द्वारा दिल्ली में स्थित गुरुद्वारे जो कि अलग-अलग जगह पर हैं उनमें स्वास्थ्य संबंधी उपकरण लगवाए गए | अब एक और बड़ी खबर सामने आ रही है |
दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने 125 बेड वाले कोरोना अस्पताल के निर्माण के लिए दान में आए सोने और चांदी का भंडार सौंप दिया है | जी हां करोना काल के दौरान लोगों ने मदद के लिए बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था जिसमें उन्होंने सोने चांदी का भी दान किया था | अब उसी दान की सहायता से दिल्ली में एक कोविड-19 अस्पताल बनाया जाएगा | जो कि सभी स्वास्थ्य उपकरणों से लैस होगा | इसका निर्माण बाबा बचन सिंह जी कार सेवा वाले करेंगे। 125 बेड वाले अस्पताल में 35 आईसीयू और बच्चों के लिए 4 आईसीयू बेड और महिलाओं के लिए अलग वार्ड होंगे।
इस अस्पताल को बनवाने के पीछे भी एक अहम कारण है | सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्यों द्वारा बताया गया कि वैज्ञानिकों ने तीसरी लहर को बच्चों के लिए खतरनाक बताया है और संभवत तीसरी लहराने की आशंका भी जाहिर की है | इसलिए पहले या अस्थाई रूप से बनाया जाएगा उसके बाद इसको जंगल अस्पताल में तब्दील कर दिया जाएगा |
गुरु हरकृष्ण साहिब जी के नाम पर बन रहे इस अस्पताल में मानवता की सेवा की जाएगी।
इस मौके पर कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा और महासचिव हरमीत सिंह कालका ने बताया कि इस कोरोना अस्पताल का निर्माण कार्य बाबा बचन सिंह जी और उनकी टीम द्वारा किया जाएगा। कमेटी 60 दिनों के रिकॉर्ड समय में यह अस्पताल स्थापित कर लेगी। दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी स्थित गुरु साहिबान के दर्शाए हुए मार्ग पर चलते हुए मानवता की सेवा कर रही है। उनका मकसद इस महामारी के समय ज्यादा से ज्यादा लोगों की जान बचाना है। उन्होंने कहा कि जब रकाबगंज गुरुद्वारा साहिब में 400 वॉर्ड का कोरोना सेंटर स्थापित करने का ऐलान किया था तो एक भी ऑक्सीजन कंसंट्रेटर नहीं था, पर गुरु साहेब की रहमत के कारण चंद घंटों में ही 100 कंसंट्रेटर आ गए।

Related posts

Leave a Comment