fbpx
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
national-thoughts-special-real-heroes-30-years-3-km-long-canal-history-second-manjhi-of-bihar
Breaking News Motivational

National Thoughts Special: “REAL HEROES” 30 वर्ष 3 किलोमीटर लंबी नहर बनाने का रचा इतिहास “बिहार का दूसरा मांझी”

पिछले 30 वर्ष में 3 किलोमीटर लंबी नहर बनाने का रचा इतिहास, आज कल सोसल मिडिया में बिहार में दूसरा मांझी, मांझी 2 #टेग चल रहा है, जिससे बिहार का गया जिला एक बार फिर सुर्खिया बटोर रहा है l और हो भी क्यों ना गया जिला के एक ग्रामीण ने इतिहास रचा है, लुंगी भुइयां ने बिहार के  गया जिला में स्थित लहथुआ क्षेत्र में अपने गांव कोठीलावा के पास की पहाड़ियों से बारिश के पानी को नीचे की ओर ले जाने के लिए एक 3 किलोमीटर लंबी एक नहर खोदी है l

यह कार्य  पिछले 30 वर्षों से, अकेले ही कर  मवेशियों को पालने के लिए पास के जंगल में जाता और नहर की खुदाई करता रहा  l आज भी यहाँ के ग्रामीण आजीविका कमाने के लिए शहरों में जा रहे हैं। लेकिन लुंगी भुइयां ने अपने गावं में रह कर ही कुछ करने की ठानी अपने इलाके में मवेशियों के लिए पानी पिने के लिए और खेतों की सिचाई करने के लिए वर्षा के पानी को एकत्रित करने के लिए नहर खोदने का  मन में ठाना कार्य कठिन था, लेकिन मन में विश्वास और लगन कड़ी मेहनत से  लुंगी भुइयां को कामयाबी मिली,  और आज वहां के स्थानीय लोगों  ने स्वीकार किया है कि भुइयां के वर्षों तक मेहनत करने से बड़ी संख्या में जानवरों और लोगों को फायदा होगा l

गया में लोगों के लिए मुख्य व्यवसाय खेती और पशुपालन है।घने जंगल और पहाड़ों से घिरा, कोठीवाला गाँव जो गया जिला मुख्यालय से लगभग 80 किमी दूर है, माओवादियों की शरणस्थली के रूप में चिह्नित है। ट्विटर पर लोग उन्हें, बिहार के दशरथ मांझी 2.0 बता रहे हैं जिन्होंने अपनी पत्नी के पहाड़ से गिरने के बाद 22 साल तक पहाड़ियों में रास्ता बनाने का काम किया था l साथ ही, लोग सरकार द्वारा उन्हें सम्मानित करने की मांग भी कर रहे हैं

Related posts