#सरकार की बात #फिजूल की बात #होते जो हम सरकार #Real Heroes #जनता की बात #काम की बात #BUSINESS/MSME की बात

Breaking News:
   थायरॉयड एंड थायरॉयड डिसऑर्डर पर होम्योपैथी कॉलेज में सीएमई का आयोजन  ||   चिप डिजाइनिंग में हैं कॅरियर की अपार संभावनाएं  ||   अर्थव्यवस्था को तहस नहस कर पीएम जुमलों और जेटली ब्लॉगिंब में व्यस्त: येचुरी  ||   दृष्टिबाधित मतदाताओं को मिलेगा ब्रेल लिपि युक्त पहचान पत्र   ||   अंग्रेजी हुकूमत को खौफज़दा करने वाले शहीदों का शहीदी दिवस आज  ||   मैं भी चौकीदार कैंपेनिंग चला रही भाजपा पर राहुल का तंज  ||   महिला खिलाडी का शून्य से शिखर तक का सफर  ||   दिल्ली की यमुना की लहरों पर शुरू हुई 29वीं राष्ट्रीय सीनियर कैनो एसप्रिंट प्रतियोगिता  ||   स्वाइन फ्लू से कैसे करें बचाव  ||   बवाना में कैंडल मार्च निकालकर दी गई शहीदों को श्रद्धांजलि   ||   युवाओं को राजनीति में भागीदारी लेने से क्या है फायदा?  ||   काम की बात में जाने संगीत से सफलता की मिसाल   ||

मांसाहार से ही नहीं शाकाहारी भी पा सकते हैं भरपूर पोषण

लोगों में मानसिकता है कि मांसाहारियों को काफी हद तक  भोजन से पोषक तत्वों की पूर्ति हो जाती हैं। जबकि शाकाहार में शरीर को भरपूर पोषण नहीं मिल पाता। ये सत्य है कि मांंसाहार से शरीर में भरपूर पोषण की उपलब्धता हो जाती है। इस मामले में कई बार शाकाहारी पीछे छूट जाते हैं। कई ऐसे पोषक तत्वों की इनमें कमी पाई जाती है। ऐसा नहीं है कि शाकाहारी भोजन से पूर्ण पोषण नहीं पा सकते, बस जरूरत होती है अपने भोजन को सही अनुपात और तरीके से लेने की। महिलाओं को प्रतिदिन 46 ग्राम और पुरुषों को 56 ग्राम प्रोटीन हर दिन आवश्यक होता है। वैसे यह मात्रा व्यक्ति की उम्र, हाइट और वजन पर निर्भर करती है। 



ये हैं प्रोटीन के स्रोतः- एक कप साबुत अनाज जैसे ज्वार या बार्ली जैसे अनाज में 18 ग्राम तक प्रोटीन पाया जाता है, एक कप टोफू में 18 से 20 ग्राम प्रोटीन, काबुली मटर, मटर और सोयाबीन में काफी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, एक कप बीन्स में लगभग 15 ग्राम तक प्रोटीन पाया जाता है साथ ही दालों में भी बड़ी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, दही पचाने में काफी आसान होता है और यह शाकाहारियों के लिए प्रोटीन का एक बेहतरीन स्रोत है।

विटामिन डी का पोषण :- कमजोर मांसपेशियां और खराब बोन डेंसिटी विटामिन डी की डिफिशिएंसी के प्रमुख लक्षणों में से एक हैं। लेकिन इस विटामिन की कमी से बच्चों में अस्थमा, वृद्धावस्था में कॉग्नेटिव इम्पेयरमेंट, इंटोलरेंस और मल्टीपल स्केलरोसिस की समस्या भी हो सकती है। वैसे इन समस्याओं को समय रहते सुधारा जा सकता है।

कितनी मात्रा में चाहिए :- 1-70 साल के बीच की उम्र वालों को 15 माइक्रोग्राम प्रतिदिन की आवश्यकता होती है। इससे अधिक उम्र वालों को प्रतिदिन 20 माइक्रोग्राम की जरूरत होती है।

ये हैं विटामिन डी के स्रोतः सोया से तैयार उत्पाद जैसे टोफू और सोया बड़ी, ओट्स, मशरूम, सूरज की रोशनी, ऑरेंज जूस, फोर्टिफाइड अनाज विटामिन डी के अच्छे स्रोत माने जाते हैं।

विटामिन बी 12 का पोषण :- इस विटामिन की कमी से एनीमिया, नर्व डैमेज, थकान और खराब स्मरणशक्ति की परेशानियां हो सकती हैं। विटामिन बी12 से रक्त के निर्माण और कोशिकाओं के डिविजन में मदद मिलती है।

कितनी मात्रा में चाहिए :- वयस्कों को 1.9-2.4 माइक्रोग्राम की जरूरत होती है। वहीं गर्भवतियों को 2.6 माइक्रोग्राम, स्तनपान करा रही महिलाओं को 2.8 माइक्रोग्राम विटामिन बी12 की आवश्यकता प्रतिदिन होती है।

ये हैं विटामिन बी 12 के स्रोतः चीज, अंडे, दही, व्हे पावडर, फोर्टिफाइड अनाज, लो फैट दही, ड्राय फ्रूट्स एवं नट्स इसके कुछ प्रमुख स्रोत हैं।

0 Comments So Far on this Post

Post Comment

Relevant Posts :



#LIFESTYLE
चिप डिजाइनिंग में हैं कॅरियर की अपार ...

Dated :Mar 23, 2019





#NATIONALNEWS
अर्थव्यवस्था को तहस नहस कर पीएम जुमलो...

Dated :Mar 23, 2019





#NATIONALNEWS
दृष्टिबाधित मतदाताओं को मिलेगा ब्रेल ...

Dated :Mar 23, 2019





#NATIONALNEWS
अंग्रेजी हुकूमत को खौफज़दा करने वाले ...

Dated :Mar 23, 2019





#NATIONALNEWS
मैं भी चौकीदार कैंपेनिंग चला रही भाजप...

Dated :Mar 23, 2019





#NATIONALNEWS
रोजगार संकट और अर्थव्यवस्था की बदहाली...

Dated :Mar 23, 2019





#NATIONALNEWS
बैकफुट पर खेल कर मैच नहीं जीत सकती का...

Dated :Mar 23, 2019





#ENTERTAINMENTANDSPORTS
बाक्स आफिस पर केसरी को पहले दिन 21 करोड़

Dated :Mar 22, 2019





#ENTERTAINMENTANDSPORTS
कोहली और धोनी के धुरंधरों के मुकाबले ...

Dated :Mar 22, 2019