#सरकार की बात #फिजूल की बात #होते जो हम सरकार #Real Heroes #जनता की बात #काम की बात #BUSINESS/MSME की बात

Breaking News:
   कलाकार तिवारी और दिग्गज़ शीला के बीच होगा जबरदस्त मुकाबला  ||   कांग्रेस ने जारी की तीन सीटों पर उम्मीदवारों की लिस्ट  ||   लाखों डेरा अनुयायी करेगें राजनेताओं को विचलित  ||   बम विस्फोट- मृतकों की संख्या 290 के पार  ||   ट्रांसलेटर की वजह से राहुल गांधी की जमकर उड़ी खिल्ली  ||   इस्तीफे के बाद शिवसेना की हुई प्रियंका  ||   जिस्म नाजुक है आबगीनों से खारज़ारों के उन मकीनों से - फख़रूद्दीन अशरफ  ||   कांग्रेस जनविरोधी और राष्ट्र विरोधी है- माननीय इंद्रेश कुमार  ||   महिला खिलाडी का शून्य से शिखर तक का सफर  ||   दिल्ली की यमुना की लहरों पर शुरू हुई 29वीं राष्ट्रीय सीनियर कैनो एसप्रिंट प्रतियोगिता  ||   स्वाइन फ्लू से कैसे करें बचाव  ||   बवाना में कैंडल मार्च निकालकर दी गई शहीदों को श्रद्धांजलि   ||

लड़ाई किसी की फायदा किसी का

एक लकड़ी को तोड़ने की कोशिश की जाए तो वो आसानी से टूट जाती है, और अगर लकड़ी के बंडल को तोड़ने की कोशिश की जाए तो वो आसानी से नहीं टूटता। इसी बात को और अच्छे तरीके से समझाने के लिए मैं आपको एक कहानी सुनाता हूँ। 

एक बार एक जंगल में एक भैंस और घोड़े की लड़ाई हो गयी। भैंस के बड़े बड़े सींग थे। उसने सींग मार मार कर घोड़े को अधमरा कर दिया। घोड़े को जब लगा की वह भैंस से जीत नहीं सकता। कुछ समय बाद वह मौका देखकर वहाँ से भाग गया। भागते भागते घोड़ा मनुष्य के पास पहुँचा और उससे सहायता माँगी। मनुष्य ने घोड़े से कहा – मैं भैंस से नहीं जीत सकता क्योकि वह अधिक बलवान है और उसके बड़े बड़े सींग है। यह सुनकर घोड़े ने कहा – तुम एक डंडा लेकर मेरी पीट पर सवार हो जाओ। मैं भैंस के आसपास तेज तेज दौड़ता रहूँगा और तुम उसे डंडे से मार-मार कर अधमरा कर देना और फिर उसे एक रस्सी से बाँध लेना। मनुष्य ने कहा – मैं उसे बाँधकर क्या करुँगा। घोड़े ने कहा – भैंस बहुत ही मीठा दूध देती है। तुम उसे पी सकते हो। मनुष्य ने घोड़े की बात मान ली। वह घोड़े की पीट पर सवार हो गया। उसने डंडे से भैंस को मार मार कर अधमरा कर दिया। उसके बाद उसने उसे एक रस्सी से बाँध लिया। घोड़े ने मनुष्य से कहा – अब मैं चलता हूँ। मेरे चरने का समय हो गया है। यह सुनकर मनुष्य हँसने लगा और घोड़े को भी के रस्सी से बाँध लिया। इसके बाद उसने घोड़े से कहा – मैं रोज भैंस का दूध पिऊंगा और तुम्हारे ऊपर सवार होकर रोज घूमने जाया किया करुँगा। यह सुनकर घोड़े को बहुत पछतावा हुआ की मैनें मनुष्य को बुलाया और वह मुझे ही अपने काम के लिए इस्तेमाल कर रहा है।

इस कहानी  से मैं आपको ये समझाना चाहता हूँ की अगर तुम आपस में ही लड़ते रहोगे तो कोई तीसरा इंसान तुम्हारा फायदा उठा लेगा। इस बात को तुम आज समझो या फिर कल समझो लेकिन सच्चाई ये है कि आपसी एकता ही महत्वपूर्ण है।

0 Comments So Far on this Post

Post Comment

Relevant Posts :



#NATIONALNEWS
कांग्रेस ने जारी की तीन सीटों पर उम्म...

Dated :Apr 22, 2019





#CITYNEWS
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने एक रन से ...

Dated :Apr 22, 2019





#NATIONALNEWS
भारत और चीन को ईरान से कच्चे तेल खरीद...

Dated :Apr 22, 2019





#NATIONALNEWS
राष्ट्र की सुरक्षा के लिए भाजपा संकल्...

Dated :Apr 22, 2019





#CITYNEWS
सुप्रीम कोर्ट अवमानना मामले में राहुल...

Dated :Apr 22, 2019





#CITYNEWS
लाखों डेरा अनुयायी करेगें राजनेताओं क...

Dated :Apr 22, 2019





#NATIONALNEWS
निर्वाचन आयोग ने मोदी पर बनी बायोपिक ...

Dated :Apr 22, 2019





#NATIONALNEWS
सेंसेक्स 285 अंक लुढ़का, निफ्टी भी 99 ...

Dated :Apr 22, 2019





#NATIONALNEWS
कुर्सी रहे या जाये, या तो मै रहूंगा य...

Dated :Apr 22, 2019