fbpx
National Thoughts
Breaking News National

लोकसभा में पुनर्गठन बिल पेश, चर्चा जारी

नई दिल्ली || मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को लेकर ऐतिहासिक फैसला लेते हुए राज्यसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पेश किया, जो एक लंबी बहस के बाद पारित हो गया। आज इस बिल को लोकसभा में पेश किया गया, जिसके बाद इस प्रस्ताव पर बहस होगी। पुनर्गठन के बाद जम्मू-कश्मीर अब अलग केंद्र शासित राज्य बन गया है और लद्दाख भी अलग प्रदेश बन गया है। राज्यसभा में इस बिल को लेकर दो फाड़ दिखी कांग्रेस ने भी अपने सभी लोकसभा सांसदों को सदन में उपस्थित रहने को कहा है। कांग्रेस पार्टी के नेता के. सुरेश ने लोकसभा सांसदों के लिए व्हिप जारी किया है। बता दें कि राज्यसभा में ना सिर्फ कांग्रेस बल्कि पूरा विपक्ष अलग-थलग दिखा था।

भारतीय जनता पार्टी का विरोध करने वाली दिल्ली की आम आदमी पार्टी ने भी धारा 370 हटाने के फैसले का समर्थन करती नज़र आई, बसपा ने भी इस फैसले का समर्थन किया। इसके अलावा बीजद, AIADMK, YSR कांग्रेस ने भी इस बिल के पक्ष में वोट दिया है। राज्यसभा में इस बिल के पक्ष में 125 और विरोध में कुल 61 वोट पड़े थे।  आज लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पेश कर दिया। इसके बाद सदन में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि आप पीओके के बारे में सोच रहे हैं, आपने सभी नियमों का उल्लंघन किया और एक राज्य को रातोंरात केंद्र शासित प्रदेश में बदल दिया। लोकसभा में अमित शाह और अधीर रंजन के बीच तीखी तकरार देखने को मिली।

Related posts

Leave a Comment