fbpx
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
Statue of Unity becomes first choice for tourists, beating 133-year-old Statue of Liberty
Statue of Unity becomes first choice for tourists, beating 133-year-old Statue of Liberty
Aaj ka Itihas Travel

133 साल पुरानी स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी को पछाड़, पर्यटकों की पहली पसंद बनी स्टैच्यू ऑफ यूनिटी | Statue Of Unity

नेशनल थॉट्स डेस्क। दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ देश का गौरव है। गुजरात के केवडिया में 3000 करोड़ रुपए की लागत से तैयार हुई यह प्रतिमा पर्यटकों की संख्या के मामले में अमेरिका की ‘स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी’ को टक्कर दे रही है। इस प्रतिमा को देखने के लिए प्रतिदिन लगभग 8,500 पर्यटक आ रहे हैं। सरदार वल्लभभाई पटेल की यह प्रतिमा 182 मीटर ऊंची है। उद्घाटन के कुछ ही महीनों बाद यह राज्य में टूरिस्ट्स के बीच सबसे पसंदीदा डेस्टिनेशन हो गई। अनावरण के 11 महीनों के भीतर देश-विदेश से 23 लाख से ज्यादा लोग इसे देखने पहुंचे। कुछ इतनी ही संख्या में पर्यटक ‘स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी’ देखने पहुंचते हैं। जबकि, ‘स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी’ 133 साल पुरानी है। आपको ज्ञात हो कि सरदार वल्लभभाई पटेल को समर्पित स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के अनावरण हुए 11 महीने हो चुके हैं। जब से सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा आम लोगों के देखने के लिए खोली गई तब से पर्यटकों को खूब आकर्षित कर रही है। बता दें कि प्रधानमंत्री ने स्टैचू ऑफ यूनिटी का 31 अक्टूबर, 2018 अनावरण किया है। इसके बाद पर्यटकों के लिए 1 नवंबर इसे देखने खोल दिया गया था।

वर्ल्ड टूरिज्म मैप पर दाखिल किया अपना नाम

गुजरात और केवाड़िया स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के कारण वर्ल्ड टूरिज्म मैप पर हैं। पीएम ने कहा कि मुझे बताया गया कि पिछले 11 महीनों में देश-विदेश से 23 लाख से अधिक पर्यटक यहां पहुंचे हैं। लगभग 8,500 लोग रोज यहां आ रहे हैं और जन्माष्टमी के दिन पर्यटकों की संख्या बढ़कर 34,000 हजार हो गई थी। जहां न्यू यॉर्क हार्बर पर लिबर्टी द्वीप पर 133 साल पुरानी 92 मीटर लंबी स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी को देखने के लिए लगभग 10,000 पर्यटक जाते हैं तो वहीं स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए लगभग 8,500 पर्यटक आते हैं। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के अनावरण के पहले 11 दिनों में 1,28,000 से अधिक पर्यटकों पहुंचे थे। शुरुआती दिनों के दौरान वीकेंड पर लगभग 50,000 पर्यटक आए थे।

टूरिज्म के लिए यहाँ हैं ये खास सुविधाएं

सरकार ने पर्यटकों को लुभाने के लिए कई सुविधाएं शुरू की हैं। जैसे हाल ही में 5 किलोमीटर तक रिवर राफ्टिंग के अलावा बटरफ्लाई पार्क, जंगल सफारी पार्क और चिल्ड्रन न्यूट्रिशन पार्क आदि की सुविधा शुरू की है। इसके साथ ही गुजरात पर्यटन निगम पर्यटकों को रहने के लिए टेंट प्रदान करता है। पीएम मोदी ने कहा कि आने वाले दिनों में यहां पर्यटन से जुड़े प्रॉजेक्ट्स पूरे हो जाएंगे। इससे रोजगार के अवसर बढेंगे। हमारे आदिवासी मित्र जो सब्जी, फल, फूल और दूध का उत्पादन करते हैं, उन्हें यहां बहुत बड़ा बाजार मिलेगा। बता दें कि हाल ही में मशहूर अमेरिकी पत्रिका टाइम ने विश्व के महानतम स्थानों की सूची ‘स्टैचू ऑफ यूनिटी’ को शामिल किया है। पीएम ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी।

कैसे पहुंचे ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’

एयरपोर्ट और रेल लाइन के लिए वडोदरा सबसे नजदीक है। यहां से केवड़िया 89 किलोमीटर की दूरी पर है। यहां से आप सड़क मार्ग से केवड़िया पहुंच सकते हैं। इसके अलावा भरूच भी नजदीक रेलवे स्टेशन है। अगर आप अहमदाबाद से आएंगे तो आपको 200 किमी की दूरी तय करनी होगी। इसके अलावा साबरमती रीवरफ्रंट से पंचमुली लेक तक सीप्लेन सेवा चलाए जाने की योजना है। केवड़िया पहुंचने के बाद आपको साधु आइलैंड तक आना होगा। केवड़िया से साधु आइलैंड तक 3.5 किमी तक लंबा राजमार्ग भी बनाया गया है। इसके बाद मेन रोड से स्टैचू तक 320 मीटर लंबा ब्रिज लिंक भी बना हुआ है।

Related posts