देश के सबसे बड़े सरकार" />
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
The history of the country's largest bank SBI is 213 years old
Breaking News National Thoughts Special

देश के सबसे बड़े बैंक SBI का इतिहास है 213 साल पुराना

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) का आज स्थापना दिवस है | आज ही के दिन यानी 1 जुलाई 1955 को इम्पीरियल बैंक का नाम बदलकर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया रख दिया गया था | इसलिए हर साल 1 जुलाई को एसबीआई की सभी देश-विदेश शाखाओं में बैंक का स्थापना दिवस मनाया जाता है | SBI देश का सबसे बड़ा बैंक होने के साथ-साथ एक विश्वसनीय बैंक भी है | SBI जितना बड़ा है, उतना ही बड़ा और समृद्ध उसका इतिहास है | आइए जानते है इस बैंक से जुड़े कुछ किस्से-कहानियों और घटनाओं के बारे में –

 

  1. सबसे पहले साल 1806 में कोलकाता में बैंक ऑफ कोलकाता की स्थापना हुई | इसे अंग्रेजों द्वारा स्थापित किया गया था | जो बाद में बैंक ऑफ बंगाल के नाम से जाना गया | 1921 में बैंक ऑफ मुंबई और बैंक ऑफ मद्रास का बैंक ऑफ बंगाल में विलय हो गया | जो अंत में मिलकर इम्पीरियल बैंक ऑफ इंडिया बना |
  2. बैंक ऑफ बंगाल के रूप में 2 जनवरी 1809 को पुनर्गठित किया गया | यह अपने तरह का एक अनोखा बैंक था जिसको साझा स्टॉक के तहत ब्रिटिश भारत और बंगाल सरकार के द्वारा संचालित किया जाता था |
  3. इसके बाद मुंबई में बैंक ऑफ बांबे की 1840 में और बैंक ऑफ मद्रास की स्थापना 1843 में की गई | हालांकि, इन तीनों बैंकों में पूंजी निजी क्षेत्र की थी, लेकिन इसे ईस्ट इंडिया कंपनी के लिए खोला गया था | इन तीनों बैंकों की पूंजी शुरुआती दौर में निजी शेयर होल्डरों के पास थी, जिसमें यूरोपियन की ज्यादा हिस्सेदारी थी | हालांकि, 1823 में इन तीनों बैंकों पर सरकार का नियंत्रण कायम हो गया था |
  4. बैंक ऑफ बंगाल से बना इंपीरियल बैंक 27 जनवरी, 1921 में बैंक ऑफ बंगाल, बैंक ऑफ बांबे और बैंक ऑफ मद्रास को मिलाकर इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना की गई | इंपीरियल बैंक में विलय से पहले ये तीनों बैंक भारत में स्वतंत्र रूप से काम कर रहे थे |
  5. सन 1955 में इम्पीरियल बैंक बना स्टेट बैंक ऑफ इंडिया | देश आजाद होने के बाद रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया को पार्लियामेंटरी एक्ट के तहत अधिग्रहित किया | जिसके लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, एक्ट 1955 लाया गया और इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया का नाम 30, अप्रैल 1955 बदलकर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया रखा गया |
  6. साल 1955 में ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (सब्सिडरी एक्ट) पारित हुआ. इसके बाद अक्टूबर में स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद SBI का पहला सहयोगी बैंक बना | इन सहयोगी बैंकों में स्टेट बैंक बीकानेर, स्टेट बैंक ऑफ इंदौर, स्टेट बैंक ऑफ जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ सौराष्ट्र, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर, भारतीय महिला बैंक (बीएमबी) शामिल हैं | हालांकि 1 अप्रैल 2017 को एसबीआई में इन सहयोगी बैंकों को विलय हो गया |

Related posts