नई दिल्ली (
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
This substance can fix the cracked screen of the phone in minutes
Breaking News National

फोन की क्रैक स्क्रीन को मिनटों में जोड़ सकता है ये पदार्थ

नई दिल्ली ( टेक न्यूज डेस्क ) : स्मार्टफोन जो अब हर इंसान की जरूरत बनते जा रहे है | कोरोना काल के दौरान लोगों के सभी काम मोबाइल, लैपटॉप और कंप्यूटर जैसे उपकरणों पर रहकर सिमट गए हैइनमें केवल सॉफ्टवेयर फीचर ही नहीं बल्कि हार्डवेयर भी इस तरह से अपडेट हो रहे हैं जिससे फोन कंपनियां लोगों के लिए उनके मोबाइल और ज्यादा सुरक्षित, आरामदेह और नई सुविधाओं से युक्त बना रहे हैं | जिस कारण मजबूरन ही सही लेकिन लोग लापरवाह होते जा रहे है | आज कल के फोन में फोल्डेबल स्क्रीन जैसे अनोखा फीचर भी दिखाई देने लगे है

लेकिन फोन की बढ़ती उपयोगिता के चलते एक बेहद अहम समस्या है जो अधिकतर लोगों के सामने आई होगी | फोन हाथ से छूटना या फिसलकर गिरना आदि के कारण फोन की स्क्रीन में क्रैक या वो टूट जाती है | जिस कारण उसका अतिरिक्त खर्च भुगतना पड़ता है | लेकिन जहां हम टेक्नॉलजी की बात कर रहे है वह विज्ञानिकों का भी तो योगदान बारबार का है | ठीक इसी प्रकार वैज्ञानिकों ने ऐसा पदार्थ खोज लिया है जिससे फोन की क्रैक स्क्रीन कुछ ही सेकेंड में अपने आप ठीक (Self-Healing) हो जाएगी |

एक बड़ी समस्या है ये

स्क्रीन का क्रैक होना एक बहुत बड़ी समस्या है | मोबाइल में स्क्रीन ही है जिसके सबसे पहले क्रैक होने का खतरा सबसे ज्यादा होता है | लोग इसके लिए स्क्रीन गार्ड, मोबाइल कवर का सहारा लेते हैं और उन्हें इस बात का खास ख्याल रखना होता है कि उनका मोबाइल ना गिरे और उसकी स्क्रीन क्रैक ना होने पाए |

भारतीय शोधकर्ताओं ने निकाला उपाय 

कोलकाता के भारतीय विज्ञान शिक्षा और अनुसंधान संस्थान के शोधकर्ताओं ने इस समस्या का हल निकाल लिया है | उन्होंने ऐसा पदार्थ पता करने में सफलता पाई जो स्मार्टफोन स्क्रीन के लिए आदर्श है | यह पारदर्शी पदार्थ बहुत मजबूत होने के साथ चटकने पर खुद ब खुद ठीक हो जाता है | इस पदार्थ से स्मार्ट फोन में बहुत ही अहम सुविधा देखने को मिल सकेगी |

किस तरह का है ये पदार्थ 

साइंस जर्नल में प्रकाशित इस शोध में मिले प्रयोगात्मक नतीजों के मुताबिक शोधकर्ताओं ने एक पाईजोइलेक्ट्रिक जैविक पदार्थ का उपयोग किया जो यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में और विद्युत ऊर्जा को यांत्रिक ऊर्जा में बदल देता है | इससे सुई के आकार के क्रिस्टल होते हैं जो 2 मिलीमीटर लंबाई और 0.2 मिलीमीटर चौड़ाई से बड़े नहीं होते हैं |

Related posts

Leave a Comment