fbpx
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
To express too much in too few words
Breaking News Gaagar Mein Sagar गागर में सागर

गागर में सागर – 050

कपास के फूल जैसे बनो-सदा बने रहोगे
न खुशबू – न सुंदरता
पर सब के काम आता है
सब का तन ढकता है |

Related posts