fbpx
National Thoughts
Breaking News City

राष्ट्रीय राजधानी में दो दिवसीय राजकीय शोक

नई दिल्ली || दिल्ली की पूर्व एवं पहली महिला मुख्यमंत्री और देश की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज प्रखर वक्ता और ओजस्वी व्यक्तित्व की धनी थी। उनकी बेबाकी और कार्य के प्रति उनकी निष्ठा उन्हें अन्य नेताओं से जुदा बनाती थी। शायद यहीं वजह है कि पक्ष के साथ विपक्ष भी उनका लोहा मानती थी। सुषमा स्वराज के सम्मान में राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को दो दिवसीय शोक का एलान किया है। सुषमा स्वराज का मंगलवार को दिल का दौरा पड़ने से एम्स में निधन हो गया था। वह 67 वर्ष की थीं।
वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सुषमा स्वराज के संदर्भ में ट्वीट कर लिखा, ‘भारत ने एक महान नेता खो दिया। सुषमा जी काफी जोशपूर्ण और विलक्षण इंसान थीं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें।’ बता दें कि राजकीय शोक का अर्थ है कि इन दो दिनों के अंदर राज्य में कोई रंगारंग कार्यक्रम नहीं होंगे। बता दें कि दिल्ली ही नहीं पूरे भारत में शोक की लहर है। उत्तर-दक्षिण, पूर्व-पश्चिम से लेकर विदेशों तक से सुषमा के निधन के बाद से संवेदनाएं व्यक्त की जा रही है।

Related posts

Leave a Comment