fbpx
Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar
When was the first 'World Cycle Day' celebrated in the world
Blog Breaking News

कब मनाया गया विश्व में पहला ‘विश्व साइकिल दिवस’

3 जून, 2018 को संपूर्ण विश्व में पहला ‘विश्व साइकिल दिवस’ (World Bicycle Day) मनाया गया था।

उल्लेखनीय है कि संयुक्त राष्ट्र ने हाल ही में परिवहन के सामान्य, सस्ते, विश्वसनीय, स्वच्छ और पर्यावरण अनुकूल, साधन के रूप में इसे बढ़ावा देने के लिए विश्व साइकिल दिवस को मनाने की घोषणा की थी।

इस अवसर पर उप-राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (NMDC) द्वारा आयोजित एक साइकिल रैली को हरी झंडी दिखाई थी।

इसके साथ ही एनएमडीसी की जन-साइकिल भागीदारी योजना के स्मार्ट साइकिल स्टेशन का उद्घाटन किया था।

साइकिल ही एक ऐसा वाहन है जो प्रदूषण नहीं फैलाता
पर्यावरण सुरक्षा हम सबकी जिम्मेदारी है। बढ़ते वायु प्रदूषण, दूषित होते  जल और घटते वन और जंगल के कारण आज पृथ्वी पर सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है।

साइक्लिंग पर्यावरण संरक्षण व तंदरुस्त जीवन के लिए अच्छा विकल्प

साइकिल चलाने को सेहत से जोड़ने का चलन बहुत पुराना है। साथ ही यह मानसिकता भी बनी हुई है कि साइकिल तो गरीबों की सवारी है, लेकिन ऐसा मानने वाले भी बखूबी से जानते हैं कि साइकिल सेहत के लिए अच्छा विकल्प है।

वातावरण को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए मामले में साइकिल से बड़ा सहयोग कोई नहीं हो सकता। अब तो सड़क पर चलने के लिए अलग और पहाड़ों पर चलाने के लिए अलग साइकलें आ रहीं हैं।

आज से तीन चार दशक पहले जब कार, मोटरसाइकिल या स्कूटर तक आम आदमी की पहुंच नहीं थी, तो ज्यादातर लोग अपने दफ्तर या कामकाज के ठिकानों तक जाने के लिए साइकिल पर ही जाया करते थे। इससे पहले सेहत और बॉडी बिल्कुल फिट रहती थी। आज सुविधाओं के युग में साइकिल चलाने का चलन बहुत कम हो रहा है। इसका कारण शायद यह है कि साइकिल को गरीबों की सवारी माना जाने लगा है। यह भी सच है कि साइकिल के अलावा सभी व्हीकलों पर पेट्रोल या डीजल का भी खर्च होता है। जबकि साइकिल बिना खर्च की सवारी है।
साइकिल का प्रयोग कर दें स्वच्छ भारत मुहिम में योगदान

संग्रहकर्ता –  दिग्विजय कुमार सिंह 

Related posts